Kavyanjali

200.00


Back Cover

In stock

SKU: 9789391531287 Categories: , Tag:

Description

कविता कवि के हृदय की संचित संवेदना का वह चित्रण है, जो समय की अनुकूलता पाकर कलम के माध्यम से कविता या गीतों के रूप में प्रभावित होने लगता है। जो काल्पनिक होकर भी वास्तविकता का सहज रूप धारण कर लेता है, तथा हृदय को स्पर्श करता हुआ अंतर्निहित भावनाओं के द्वारा पाठक या श्रोता के मन में अपनी अमिट छाप अंकित कर देता है। पाठक जिसका पान करके कल्पनाओं के अनंत सागर में डूब जाता है और उससे अपने आप को जोड़कर कल्पनाओं में विचरण करने लगता है, तथा अपने आपको कुछ क्षण के लिए विस्मृत कर देता है। यह वे भावनाएं हैं, जो यत्र तत्र बिखरे काव्य सृष्टि और समष्टि में समाहित सौंदर्य को संकलित कर मनुष्य के आनंदमय कोष को जाग्रत करता है, तथा समाज को नई चेतना प्रदान करता है।
डॉ. सुमन मिश्रा

Book Details

Weight 115 g
Dimensions 0.4 × 5.5 × 8.5 in
Edition

First

ISBN

9789391531287

Language

Hindi

Pages

96

Publication Date

25 September 2022

Author

Suman Mishra

Publisher

Anjuman Prakashan

Reviews

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Kavyanjali”

Your email address will not be published.