Redgrab Shop

लेखक अपने बारें में कहते हैं – जीवन में दो ही काम दिल लगाकर किए। पहला, किसी से दिल लगाया तो उसका नतीजा यह निकला कि मैं पति बन गया। दूसरा, व्यंग्य लिखा तो इसका नतीजा ‘शोरूम में जननायक’ किताब का लेखक बन गया।

Filters

 

Language
Publishers
Series
  • There are no terms yet
Tags
  • There are no terms yet

Anoop mani tripathi

Sort by :

Showing the single result

लेखक अपने बारें में कहते हैं – जीवन में दो ही काम दिल लगाकर किए। पहला, किसी से दिल लगाया तो उसका नतीजा यह निकला कि मैं पति बन गया। दूसरा, व्यंग्य लिखा तो इसका नतीजा ‘शोरूम में जननायक’ किताब का लेखक बन गया।

X